नीतीश कुमार के विरोधियों को बलियावी का कड़ा संदेश

अवामी न्यूज़

पटना। जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के वरिष्ठ नेता मौलाना गुलाम रसूल बलियावी ने लोक जनशक्ति पार्टी को खबरदार करते हुए कहा है कि वह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर उंगली उठाने की गलती नहीं करे। मौलाना बलियावी ने कहा कि आज जो लोक जनशक्ति पार्टी है, वह पहले वाली नहीं है जिसको 12 प्रतिशत वोट मिले थे। उन्होंने कहा कि लोजपा को यह ताकत हमारे कारण थी।

29 विधायक

मौलाना गुलाम रसूल बलियावी ने कहा कि लोक जनशक्ति पार्टी के 29 विधायक उस समय जीत कर आए थे जब वे पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष थे। लेकिन लोजपा में परिवारवाद और पक्षपात की राजनीति के कारण उन्होंने पार्टी छोड़ दी जिसके बाद उसका वोट 12 से सीधे चार प्रतिशत पर लुढ़क कर आ गया।

बहुत से राज़ सीने में दबे हैं

जदयू विधान पार्षद मौलाना गुलाम रसूल बलियावी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ कुछ बोलने से पहले सौ बार सोचना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने बलियावी की ताकत पर अपना ताज महल खड़ा किया है यदि वो नीतीश कुमार को आंख दिखाएंगे तो बलियावी जैसे लोग लंगोटा खोल कर मैदान नहीं छोड़ेंगे। मौलाना बलियावी ने कहा कि हम हर सवाल का मुंह तोड़ जवाब देंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर अपमानजनक और असंसदीय टिप्पणी करने से पहले सोच लेना चाहिए कि बहुत सारे चिट्ठे आज भी बलियावी की छाती में हैं, उन्हें निकाल कर रख देंगे।

नीतीश पर हमला

गौर तलब है कि लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान के साथ ही पार्टी के छोटे बड़े नेता पिछले कई तीन-चार महीने से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विरुद्ध मोर्चा खोले हुए हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सबसे पसंदीदा कार्यक्रम सात निश्चय ही को लोजपा निशाना बना रही है। लोजपा ने कहा है कि सात निश्चय की योजनाओं में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुए हैं जिसकी जांच नई सरकार कराएगी। लोजपा ने रविवार, 4 अक्टूबर को एनडीए से बाहर होने का एलान करते हुए कहा था कि वह जदयू के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारेगी। चिराग पासवान ने इसके साथ ही कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा से उसके अच्छे सम्बंध हैं और बिहार में अगली सरकार भाजपा ही के नेतृत्व में बनेगी।

Source: newsinkhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *