पीएचसी पर ऑक्सीजन उपलब्ध कराना क्यों जरूरी है

राजद ने कहा है कि पीएचसी पर ऑक्सीजन गैस की पर्याप्त उपलब्धता से हम कोरोना महामारी के भयावह संकट को फैलने से रोक सकते हैं।

पटना। कोरोना का संक्रमण वैसे तो हर जगह खतरनाक है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में यह अधिक तबाही मचा सकता है। इसकी आशंका व्यक्त करते हुए राष्ट्रीय जनता दल ने सरकार से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर भी ऑकसीजन उपलब्ध कराने की मांग की है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह ने कहा है कि कोरोना संक्रमण तेजी के साथ गांव में भी फैल जा रहा है। इसे यदि तत्काल नियंत्रित नहीं किया गया तो स्थिति नियंत्रण से बाहर हो जाएगी। इसके लिए जरूरी है कि सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर पर्याप्त मात्रा में तत्काल ऑक्सीजन गैस उपलब्ध कराया जाए।

सिमरी बख्तियारपूर में अलमदद फॉउंडेशन के कार्यकर्ता ऑक्सीजन सिलेंडर का प्रबंध करते हुए

राजद के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना का संक्रमण अब गांवों में भी फैल रहा है। पिछली बार की तुलना में इस बार के संक्रमण का सबसे बुरा असर लोगों के श्वसन प्रक्रिया पर हो रहा है। श्वांस लेने में परेशानी महसूस करने पर लोग पटना भाग रहे हैं। पटना की स्थिति यह है कि यहां किसी अस्पताल में बेड उपलब्ध होना मुश्किल हो गया है। जिला और सदर अस्पतालों में भी यही स्थिति है। गांवों में अधिकांश लोगों की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि श्वसन की परेशानी से जूझते हुए मरीज को राजधानी पटना अथवा जिला अस्पतालों तक ला पाए। कुछ लोग किसी प्रकार व्यवस्था कर पटना आ भी जा रहे हैं तो उन्हें किसी अस्पताल में जगह नहीं मिल रही है।

जगदानंद सिंह ने कहा कि ऐसी जानकारी मिली है कि कई लोगों ने तो पटना के रास्ते ही में हीं दम तोड़ दिए हैं। इसलिए यदि हम प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर ही ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कर देते हैं तो आसानी से बहुतों की जिन्दगी बचाई जा सकती है। ऐसा देखा जा रहा है कि ऑक्सीजन के अभाव में हीं ज्यादा लोग दम तोड़ रहे हैं। यदि स्थानीय स्तर पर हम ऑक्सीजन की व्यवस्था कर देते हैं तो जीवन क्षति को बहुत हद तक नियंत्रित करने में कामयाब हो सकते हैं। ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को हम नहीं बचा पाए तो स्थिति बहुत ही भयावह हो जाएगी, क्योंकि आज भी गांवों में जो सामाजिक शिष्टाचार है उससे संक्रमण के तीव्र फैलाव को रोकना बहुत हीं मुश्किल हो जाएगा।  इसलिए उस स्थिति के आने से पहले हीं हमे सावधानी और एहतियात बरतने की जरूरत है।

राजद के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि केन्द्र मे एनडीए की सरकार है, स्वास्थ्य मंत्री सहित बिहार के कई मंत्री केन्द्रीय सरकार में शामिल हैं। अभी राज्य हित मे यह जरूरी है कि उनके प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए हम बिहार के लिए आवश्यकता के अनुरूप ऑक्सीजन गैस का आवंटन प्राप्त करें। अभी राजनीति का समय नहीं है, बिहार को बचाने के लिए हम सभों को राजनीतिक दायरा से ऊपर उठकर काम करने की आवश्यकता है। बिहार के हित में उठाए गए हर कदम के साथ राष्ट्रीय जनता दल नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में जनता के साथ खड़ी है। ऑक्सीजन,  दवाई और वैक्सीन के अभाव में यदि  एक व्यक्ति की भी मृत्यु होती है तो इसकी सारी जिम्मेदारी राज्य और केन्द्र सरकार की होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *