तेजस्वी की सरकार को चेतावनी

तेजस्वी यादव ने विधानसभा सत्र का बायकॉट करने के एलान के साथ ही बिहार सरकार को बड़ी चेतावनी दी है।

 

पटना: बिहार विधानसभा में नेताप्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मंगलवार, 27 जुलाई 2021 को सदन का बायकॉट करने के एलान के साथ ही सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि जनता के सवालों पर विपक्ष चुप नहीं बैठेगा। राजद सड़क से लेकर सदन तक जनता के अधिकारों की लड़ाई लड़ेगा।

विधायक दल की बैठक

राजद विधायक दल की बैठक मंगलवार, 27 जुलाई 2021 को शाम में नेताप्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव की अध्यक्षता मे हई। इसमें राजद के सभी विधायक एवं विधान पार्षद सहित पार्टी के वरिष्ट नेताओं ने भाग लिया और संगठन को मजबूत करने के लिए बहुमूल्य सुझाव दिए। इस दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि 23 मार्च 2021 को विधान सभा में जो दुर्भाग्य पूर्ण घटना हुई वह अत्यंत निंदनीय थी। विधान सभा के जारी सत्र में हम लोगों उस घटना पर बहस कराने की मांग की, लेकिन अनुमति नहीं दी गई। यह लोकतंत्र की हत्या है।

विपक्ष का मतलब जनता भी है

तेजस्वी यादव ने कहा कि विपक्ष का अर्थ सिर्फ विधायक ही नहीं होता है, आम जनता भी विपक्ष है। राजद विधायक, कार्यकर्ता मिल जुल कर धारदार आंदोलन की रूप रेखा तैयार करें,अपनी लड़ाई को कैसे लड़ेंगे इसके लिए सुझाव दें। आम लोगों तक अपनी बात कैसे पहुचाएंगे इसपर भी अपनी राय दें।

जातिगत जनगणना बहुत जरूरी है

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि जातीय जनगणना कराना बहुत जरूरी है। सरकार पर इस जनगणना को कराने के लिए दबाव भी बनाना है। उन्होंने कहा कि बुधवार 28 जुलाई 2021 को विपक्ष का कोई भी सदस्य सदन के अंदर प्रवेश नहीं करे। हम सब आगे की रणनीति तय कर आपको बताते रहेंगे।

राजद विधायक दल की बैठक को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, पूर्व मंत्री एवं विधायक तेज प्रताप
यादव, विधायक अवध बिहारी चौधरी, ललित यादव, भाई बीरेंद्र, श्रीमती अनिता देवी, अनिल साहनी, पूर्व केंद्रीय मंत्री जय प्रकाश नारायण यादव, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी, पूर्व मंत्री वृषण पटेल, अशोक सिंह और पूर्व विधान पार्षद तनवीर हसन सहित कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया। पूर्व मंत्री आलोक कुमार मेहता ने मंच का संचालन किया। धन्यवाद ज्ञापन विधान पार्षद सुनील कुमार सिंह ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *