धर्म परिवर्तन विरोधी कानून पर क्या बोले नीतीश कुमार?

देश के विभिन्न भागों में धर्म परिवर्तन विरोधी कानून की बात हो रही है. उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों ने कानून बना भी लिए हैं . इस पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की क्या राय है?

जागृत टीम

भारत में इन दिनों धर्म के नाम पर गर्मागर्म बहस चल रही है . इसी बीच बिहार में धर्म परिवर्तन विरोधी कानून के बारे में नीतीश कुमार से सवाल पूछा गया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार, 8 जून को इस सवाल का जवाब दिया. उनहोंने दो टूक शब्दों में कहा कि बिहार में धर्म परिवर्तन विरोधी कानून की आवश्यकता नहीं है.

बिहार में शांति है

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में सरकार पूरी तरह अलर्ट है. यहां इस तरह का कोई डिस्प्यूट नहीं है। बिहार में बहुत शांति है. चाहे कोई किसी भी धर्म के माननेवाला हो, यहां किसी को कोई समस्या नहीं है.

बिहार में हमलोगों ने सब काम बहुत अच्छे ढंग से किया है. यहां इस तरह का आपस में कोई विवाद नहीं है. सबलोग यहां अपने ढंग से काम कर रहे हैं. सरकार की ओर से इस पर ध्यान दिया जाता है. बिहार में दंगा जैसी कोई घटना नहीं होती है। सभी चीजों को लेकर पूरी तरह सतर्कता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.