दिव्यांगों की समावेशी शिक्षा कैसे सुनिश्चित हो?

दिव्यांगों की समावेशी शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए गुरुवार को यहां विभिन्न संस्थानों और शिक्षाविदों ने विचार विमर्श किया।

पटना। बिहार विकलांग अधिकार मंच एवं वर्ल्ड विजन इंडिया सरहसा के संयुक्त तत्वाधान में समावेशी शिक्षा फोरम की दिव्यांगों की शिक्षा पर विमर्श सभा का गुरुवार को यहां पाटलिपुत्रा बुद्धा हेरिटेज होटल सभागार में आयोजन किया गया।
इसमें वर्ल्ड विजन इंडिया के जैकब देवभक्तुला, दिव्या शफीला, अमन रॉय, शिक्षा अधिकार फोरम बिहार के अनील कुमार राय, वॉलंटरी फोरम बिहार के रविंद्र नाथ राय, भारतीय विकलांग संघ पटना के महेश कुमार, बिहार नेत्रहीन परिषद पटना के डॉ नवलकिशोर शर्मा, किन्नर अधिकार मंच के भरत कौशिक, दीप ज्योति कल्याण संस्थान पावापुरी नालंदा के सुबोध कुमार रविदास, असंगठित क्षेत्र कामगार संगठन के विजयकांत सिन्हा, दिव्यांग अधिकार संघ के रोहित खन्ना, दिव्यांग फ्यूचर एसोसिएशन के पप्पू कुमार, नीतेश कुमार, ब्रेल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड ट्रेनिंग की कुमारी जूली सिन्हा तथा विभिन्न स्वयंसेवी संस्थान-जन संगठन के प्रतिनिधि शामिल हुए !

विमर्श में मुख्य रूप से दिव्यांग छात्र छात्राओं की समावेशी शिक्षा में आ रही बाधाओं के निराकरण तथा समस्या के समाधान में एनजीओ की भूमिका पर गहन विमर्श किया गया। इसके साथ ही राज्य सरकार के दायित्व पर भी चर्चा की गई।

दिव्यांग व्यक्तियों के समावेशी शिक्षा में आ रही बाधाओं के निराकरण हेतु विभिन्न प्रस्ताव स्वीकृत किए गए । इनमें आरपीडी एक्ट 2016 के प्रावधानों को लागू कराने हेतु समावेशी शिक्षा फोरम, दिव्यांग – छात्राओ के लिए बिहार सरकार को एक प्रस्ताव दे, ताकि बिहार में सभी बच्चों की शिक्षा सुनिश्चित की जाए !

सरकार से यह मांग की गई कि दिव्यांगजनों के लिए समावेशी शिक्षा को बढ़ावा देने हेतु सभी प्रकार की सुविधा देने की आवश्यकता है। वर्तमान में सरकारी विद्यालयों में दिव्यांगता के क्षेत्र के लिए प्रशिक्षित शिक्षकों की बहुत कमी है। इसलिए स्पेशल शिक्षक के रूप में शीघ्र बहाली की जाए, दिव्यांग छात्र छात्राओं को विद्यालय आने – जाने हेतु वाहन के साथ वाहन भत्ता का प्रावधान भी हो। इसके साथ ही शिक्षण सामग्री यानि ब्रेल सहित अन्य उपकरण छात्र – छात्राओं को निःशुल्क दिया जाए !
विमर्श सभा में यह बात भी निकल कर आई कि अधिनियम के आलोक में अध्ययनरत छात्र – छात्राओं का सर्वे कराकर दिव्यांग छात्रों को विशेष छात्रवृत्ति का प्रावधान किया जाए!
मंच शीघ्र बिहार सरकार को समावेशी शिक्षा के तहत समुचित शिक्षा दिव्यांगों को मिले इसके लिए एक प्रस्ताव दी जाएगी !
मौके पर अजय कुमार, धनंजय कुमार, अजय, मनोज, माखन लाल, गोरे लाल पासवान, योगेन्द्र गुप्ता, इंद्रदेव कुमार, विक्रांत जी तथा राधा कुमारी, अंशु कुमारी, सोनी कुमारी, पायल कुमारी, सीमा ठाकुर, कंचन कुमारी आदि दर्जनों उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.